मीटू अभियान की शुरुआत करने वाली एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने एक बार फिर अपनी टीम के ज़रीए स्टेटमेंट जारी किया है। उन्होने इस स्टेटमेंट में अपनी दर्द भरी दास्तां को एक बार फिर दोहराया। तनुश्री ने लिखा है कि 2008 के दौरान उनके साथ घटी घटना के बाद वह मानसिक रूप से पूरी तरह से बिखर गई थीं। इस दौरान उन्हे ऐसा लग रहा था कि वह आत्महत्या कर लें।

मॉब अटैक के कारण मैं डिप्रेशन का शिकार हो गई थी तनुश्री

उन्होने लिखा है कि 2008 मे फिल्म हॉर्न ओके प्लीज़ के सेट पर मेरे साथ घटी घटना और मेरी गाड़ी पर हुए मॉब अटैक के कारण मैं डिप्रेशन का शिकार हो गई थी। मुझे यह प्रोजेक्ट पूरा करना था इसलिए झूठी मुस्कुराहट के साथ मैने इसे पूरा किया। लेकिन अंदर ही अंदर मैं मरने के बारे मे सोच रही थी।

अपने स्टेटमेंट मे एक्ट्रेसेस जिया खान और प्रत्युषा बनर्जी का भी किया जिक्र

इतना ही नहीं उन्होने अपने स्टेटमेंट मे एक्ट्रेसेस जिया खान और प्रत्युषा बनर्जी का भी जिक्र किया है। उन्होने लिखा है कि इतनी सारी परेशानी झेलने के बाद मैं पूरी तरह से टूट चुकी थी। कुछ वर्षों बाद जब जिया खान और प्रत्युषा बनर्जी की मौत का पता चला तब मुझे गहरा आघात पहुंचा।

पीड़ित महिलाओं से आगे आने की अपील की

तनुश्री ने आगे लिखा है मैंने मीटू को आगे बढ़ाने के लिए एक बार फिर न्याय की मांग की। मैं चाहती थी कि जिन महिलाओं के साथ इस तरह की घटना हुई वह भी आगे आकर अपनी बात रखें।

गणेश आचार्य और राखी सावंत को निशाने पर लिया

उन्होने कोरियोग्राफर गणेश आचार्य और आइटम गर्ल राखी सावंत को खुद पर गलत आरोप लगाने के लिए निशाने पर लिया।

नाना पाटेकर पर लगाया था छेड़खानी करने का संगीन आरोप

बता दें कि कुछ समय पहले तनुश्री ने बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार नाना पाटेकर पर फिल्म हॉर्न ओके प्लीज़ के सेट पर छेड़खानी करने का बेहद संगीन आरोप लगाया।

Source